क्या है एक दिन के कर्फ्यू का महत्त्व।

क्या है एक दिन के कर्फ्यू का महत्त्व।


कॅरोना वायरस किसी सतह पर लगभग 9 से 12 घंटे जीवित रहता है।
ओर कर्फ्यू का समय सुबह 7 से रात 9 बजे तक। मतलब 14 घंटे।
ओर फिर रात मतलब मोटे तौर पे 24 घंटे अर्थात ये 24 घंटे लोग घरों में रहेंगे तो वायरस कांटेक्ट खत्म हो जाएगा और सोशल ट्रांसमिशन का खतरा बहुत कम हो जाएगा।
बहुत बुद्धिमानी का निर्णय।
हम सबको मिलकर ऐसे 100%बनाना चाहिए। ये एक माइलस्टोन साबित होगा।


Popular posts
प्राइवेट स्कूल में कक्षा 9 की छात्रा ने मनचलों से परेशान होकर फांसी लगा ली
Image
कुसमुंडा थाना छेत्र अंतर्गत ग्राम अमगांव मे कु जया कंवर (रानू )पिता सुमरन सिंह कंवर ने  अज्ञात कारण के वजह से फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है
Image
PCS अफ़सर ऋतु सुहास की गवर्नर आनंदी बेन पटेल से मुलाक़ात. 
Image
महाराष्ट्र कोरोना संकट के कुप्रबंधन का डरावना उदाहरण है। 2334 मरीज सामने आ चुके हैं। 160 की मौत हो गई। मुंबई भारत का सबसे डरावना शहर बन गया है। सामने आए 1757 संक्रमितों में 111 जान गंवा चुके हैं।
सदर कैंट के पास ट्रेन से कटकर हुई युवक और युवती की मौत
Image