मुख्यमंत्री ने सदन में  कहा विधायकों की निधि बढ़ाकर तीन करोड़ रुपए निधि की जाए अब से पहले विधायकों की विधायक निधि दो करोड़ हुआ करती थी

मुख्यमंत्री ने सदन में  कहा विधायकों की निधि बढ़ाकर तीन करोड़ रुपए निधि की जाए अब से पहले विधायकों की विधायक निधि दो करोड़ हुआ करती थी विधायकों से उनकी राय और सुझाव भी मांगे और कहा कि अपने-अपने विधानसभा में कार्यों की 3 वर्ष की उपलब्धियों को अगर सरकार को दे पाएंगे तो 15 मार्च से पहले सरकार उसे छाप कर विधायकों को उपलब्ध कराएगी और यह कार्य जनपद स्तर पर भी होगा और विधानसभा स्तर पर भी उपलब्धियों की पुस्तिका छापी जाएगी....


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष से की अपील मुंह पर पट्टी न बांधे अगर वह बोलना चाहे तो बोले मैं आग्रह करता हूं नेता विपक्ष बोलें नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने हाथों से इशारा कर कहा कि आप ही बोले मैं नहीं बोलूंगा मुख्यमंत्री ने ली नेता विपक्ष से चुटकी कहा नेता विरोधी दल और संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना के साथ कोई फिल्म बनेगी तो बड़ी हिट होगी क्योंकि वह उनके मित्र हैं और अगर नेता विरोधी दल कहे तो मैं उनके लिए भी एक कमेटी बना सकता हूं- सीएम योगी 


विधानसभा कर्मचारियों को दी योगी ने सौगात सदन के दौरान कार्य करने के रूप में पुरस्कार स्वरूप ₹11500 की राशि प्रदान करने का प्रस्ताव रखा -सीएम योगी


मुख्यमंत्री ने सभी दलीय नेताओं को धन्यवाद देता हूं सभी माननीय सदस्यों को धन्यवाद देता हूं और सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष देना या दीक्षित व प्रमुख सचिव विधानसभा को भी धन्यवाद देता हूं - सीएम 


 विधायकों के वेतन-भत्ते बढाने के लिए एक समिति बनाई जायेगी और उसकी सिफारिश पर सरकार काम करेगी- सीएम योगी आदित्यनाथ


Popular posts
मेरठ में कोरोना पोजेटिव केसों की संख्या बढ़ कर हुई 81 लगातार बढ़ रहे केसों ने न केवल स्वास्थ विभाग में हड़कंप मचा रखा है बल्कि अब मेरठ की जनता की भी बेचैनी बढ़ा दी है ।
दिल्ली के CGO कॉम्प्लेक्स में BSF कार्यालय को बंद किया गया   BSF के एक कर्मचारी की रिपोर्ट  कल रात को कोरोना पॉजिटिव आई
क्या है रासुका (NSA)  ?
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से 5, कालीदास मार्ग आवास जाकर आज  नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने की मुलाकात...
Image
लॉकडाउन 4 -  फॉरकंटेनमेंट जोन को छोड़कर बाकी जोन में एक राज्य से दूसरे राज्यों में आपसी सहमति से बसें जा पाएंगी।  रेड और ऑरेंज जोन के अंदर कंटेनमेंट और बफर जोन बनाए जाएंगे।जिलाधिकारी तय कर सकेंगे।