सूरत: गुजरात के सूरत में एक विशेष पाक्सो अदालत ने एक 42 वर्षीय व्यक्ति को 2017 में अपनी बेटी से बलात्कार कर उसकी हत्या करने के आरोप में दोषी पाए जाने पर शुक्रवार को मौत की सजा सुनाई.

सूरत: गुजरात के सूरत में एक विशेष पाक्सो अदालत ने एक 42 वर्षीय व्यक्ति को 2017 में अपनी बेटी से बलात्कार कर उसकी हत्या करने के आरोप में दोषी पाए जाने पर शुक्रवार को मौत की सजा सुनाई.


विशेष पाक्सो अदालत के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश पी एस काला ने दोषी पिता :ओडिशा निवासी: को मौत की सजा सुनाई.
वह यहां एक बिजली के करघे में काम करता था. उसने अपनी बेटी का छह महीने तक बलात्कार किया और जब वह गर्भवती हो गयी तब उसने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी और शव को सूरत हवाई अड्डे के पास झाड़ियों में फेंक दिया. व्यक्ति ने अपनी पत्नी को तलाक दे दिया था और अपनी बेटी के साथ रहता था. डीएनए जांच के बाद पुलिस को दास को पकड़ने में कामयाबी मिली थी.


Popular posts
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
NNew positive 7 Total positive 334 Details soon
गिरफ्तार DSP से मेडल वापस लिया जाएगा, शेर-ए-कश्मीर पुलिस मेडल वापस लिया जाएगा, आतंकियों के साथ गिरफ्तार हुआ था देविंदर सिंह,
फिर पलटेगा मौसम, बारिश , ओलावृष्टि की संभावनाएं चेतन ठठेरा
AAG विनोद शाही ने CM योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर लखनऊ और नोएडा में पुलिस कमिश्नर पद सृजन समेत तमाम मामलों पर किया विचार विमर्श...
Image