कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा वाराणसी पहुँची.

 


कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा वाराणसी पहुँची.


 सबसे पहले प्रियंका गांधी वाराणसी के राजघाट स्थित संत रविदास मंदिर में गयी. बाबू जगजीवन राम द्वारा स्थापित इस मंदिर पर हर साल रविदास जयंती के मौके पर भव्य आयोजन किए जाते हैं, जिसमें शिरकत करने के लिए पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार वाराणसी हर साल पहुंचती हैं.


Vo
कुल मिलाकर इस क्षेत्र को कांग्रेस के गढ़ के रूप में भी जाना जाता है. शायद यही वजह है कि दलितों और कांग्रेस के पुराने वोट बैंक को साधने के लिए प्रियंका अपने वाराणसी दौरे की शुरुआत इसी स्थान से की
.बाबू जगजीवन राम ने रविदास मंदिर की स्थापना 12 अप्रैल 1979 में कराई थी. उसके बाद इस मंदिर की संरक्षक मीरा कुमार हैं और उनके पति इस मंदिर ट्रस्ट के चेयरमैन हैं.
लगातार इस मंदिर परिसर की जिम्मेदारी मीरा कुमार निभाती है और वहीं भाजपा के गढ़ शहर दक्षिणी के इस इलाके को कांग्रेस के पुराने गण के रूप में जाना जाता है. यही वजह है कि प्रियंका अपने पुराने वोट बैंक को साधने के साथ ही दलित वोट बैंक पर भी निशाना साधने के लिए अपने दौरे की शुरुआत बनारस के इस मंदिर से की.फिलहाल, प्रियंका को यहां के बाद सीधे प्रोटोकॉल के मुताबिक गुलेरिया कोठी जाना था,  प्रियंका गुलेरिया कोठी की जगह, पंचगंगा घाट पर स्थित श्री मठ की ओर रवाना हुइ।


Popular posts
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
<no title>
Image
गिरफ्तार DSP से मेडल वापस लिया जाएगा, शेर-ए-कश्मीर पुलिस मेडल वापस लिया जाएगा, आतंकियों के साथ गिरफ्तार हुआ था देविंदर सिंह,
<no title>
Image