जिले में शांति एवं सौहार्दपूर्ण माहौल बनाये रखने के लिए डीएम-एसपी ने की बैठक

जिले में शांति एवं सौहार्दपूर्ण माहौल बनाये रखने के लिए डीएम-एसपी ने की बैठक


बाहुबली न्यूज़ हरदोई। जनपद में शान्ति व्यवस्था कायम रखने के लिए जिलाधिकारी पुलकित खरे एवं पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने क्षेत्र के संभ्रान्तगणो के साथ नागरिकता संशोधन कानून के दृष्टिगत शान्ति समिति की बैठक देहात कोतवाली हरदोई एवं शहर कोतवाली हरदोई में संयुक्तरूप से बैठक सम्पन्न हुई। इसी क्रम में जनपद के समस्त थानो पर भी संभ्रान्तजनों के साथ शान्ति समिति की बैठको का आयोजन किया गया।
जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि जनपद में धारा 144 लागू है। इस स्थिति में जनपद के अन्दर किसी भी प्रकार का जुलूस व प्रदर्शन पूर्णरूप से प्रतिबंधित है। उन्होने कहा कि यह हम सब की जिम्मेदारी है कि जनपद में शान्ति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाये रखे तथा अफवाहों पर ध्यान न दे। प्रशासन की सोशल मीडिया पर कड़ी नजर है, तथा अफवाह फैलाने वालो पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। प्रशासन सभी की सुरक्षा व कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए कटिबद्ध है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने उपस्थितजनो को नागरिकता संशोधन कानून पर विस्तार से जानकारी दी। 


इस मौके पर पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने कहा कि जनपद में पहले भी गंगा जमुनी तहजीब का परिचय दिया गया है। जनपद में साम्प्रदायिक सौहार्द कायम रखने में सभी संभ्रान्तजनो की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। उन्होने कहा कि इस सम्बन्ध में यदि किसी व्यक्ति को कोई जानकारी प्राप्त करनी हो तो प्रशासन के किसी भी अधिकारी से जानकारी प्राप्त कर सकता है। इसी प्रकार जनपद के समस्त थानो पर भी शान्ति समिति की बैठके आयोजित कर क्षेत्र के संभ्रान्तजनो से शान्ति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की गई। इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट गजेन्द्र कुमार, उप जिलाधिकारी राकेश कुमार गुप्ता, सीओ सिटी विजय कुमार राना, अपर जिला सूचना अधिकारी दिव्या निगम सहित प्रबुद्धजन उपस्थित रहे।


Popular posts
प्राइवेट स्कूल में कक्षा 9 की छात्रा ने मनचलों से परेशान होकर फांसी लगा ली
Image
कुसमुंडा थाना छेत्र अंतर्गत ग्राम अमगांव मे कु जया कंवर (रानू )पिता सुमरन सिंह कंवर ने  अज्ञात कारण के वजह से फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है
Image
PCS अफ़सर ऋतु सुहास की गवर्नर आनंदी बेन पटेल से मुलाक़ात. 
Image
महाराष्ट्र कोरोना संकट के कुप्रबंधन का डरावना उदाहरण है। 2334 मरीज सामने आ चुके हैं। 160 की मौत हो गई। मुंबई भारत का सबसे डरावना शहर बन गया है। सामने आए 1757 संक्रमितों में 111 जान गंवा चुके हैं।
जबरदस्त एक्शनऔर एंटरटेनमेंट से भरपूर है वॉर मगर पटकथा में कमज़ोर🤏*
Image