बलात्कार मुक्त भारत         

बलात्कार मुक्त भारत 
        कविता


*जब सुरक्षित ही नहीं हैं, बेटियाँ,*
*क्या पढ़ेंगी, क्या बढ़ेंगी, बेटियाँ,*


*क्या करें , इस क़ायदे-क़ानून का,*
*लुट रहीं हैं, जल रहीं हैं, बेटियाँ,*


*पूछिये, उस बेटी के माँ-बाप से,*
*कैसे पलती, कैसे बढ़ती बेटियाँ,*


*बेटी पैदा होना ही, क्या पाप है?*
*हीन भावनाओं से, कुंठित बेटियाँ,*


*बेटियों से ही तो, घर-परिवार है,*
*कैसा घर? जब ना रहेंगी बेटियाँ,*


*हर तरफ़ बैठे हैं कातिल,राह में,*
*कैसे बचेंगी , हमारी  बेटियाँ,*


*जब तलक क़ानून, नहीं होगा सख़्त,*
*तब तलक बेफ़िक्र, नहीं बेटियाँ,*


*मोबाइलों की पोर्न-साइट, बन्द हो,*
*रोज़ होतीं हैं, शिकार बेटियाँ,*


*अपराधी कैसा भी हो, कोई भी हो,*
*तय हो फाँसी, तब बचेंगी बेटियाँ,*


*भर दो अपराधी में, इतना डर की* 
*गर्व से, बेख़ौफ़ जीए, बेटियाँ,*


 हर बेटियोंँ को समर्पित !  


Popular posts
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
<no title>
Image
गिरफ्तार DSP से मेडल वापस लिया जाएगा, शेर-ए-कश्मीर पुलिस मेडल वापस लिया जाएगा, आतंकियों के साथ गिरफ्तार हुआ था देविंदर सिंह,
<no title>
Image