रेपो रेट क्या है और इसमें कमी आने से EMI में कमी कैसे आ जाती है?

रेपो रेट क्या है और इसमें कमी आने से EMI में कमी कैसे आ जाती है?
हाल ही में अगस्त के महीने में घोषित अपनी मौद्रिक नीति में भारतीय रिज़र्व बैंक ने रेपो रेट को 0.25% घटा दिया है जिसके कारण यह 7 सालों के सबसे निचले स्तर 6% पर आ गयी है. अब यहाँ पर लोगों के दिमाग में यह सवाल उठता होगा है कि रेपो रेट में कमी आने से होम लोन, पर्सनल लोन, वाहन लोन और बिज़नस लोन सस्ते कैसे हो जाते हैं या लोगों द्वारा चुकाई जाने वाली इन सभी लोनों की EMI में कमी कैसे आ जाती है.


इस पूरी प्रक्रिया को समझने के लिए यह समझना होगा कि रेपो रेट क्या होती है और इसके कम होने के बाद कमर्शियल बैंक क्या प्रतिक्रिया करते हैं क्या वे भी अपनी ब्याज दर कम करते हैं या नही.


“रेपो रेट वह दर है जिस पर कमर्शियल बैंक भारतीय रिज़र्व बैंक से कर्ज लेते हैं.”


दरअसल रिज़र्व बैंक (RBI) हर तिमाही अपनी मौद्रिक नीति की समीक्षा करता है जिसमे वह देश में आर्थिक परिस्तिथियों को ध्यान में रखते हुए फैसला लेता है. RBI देखता है कि यदि अर्थव्यवस्था में मुद्रास्फीति निचले स्तर पर होती है तो वह अन्य दरों जैसे नकद आरक्षी अनुपात (CRR), रिवर्स रेपो रेट और बैंक रेट इत्यादि में जरुरत के अनुसार परिवर्तन (कमी या बढ़ोत्तरी) कर देता है.


RBI के नये नियम से बैंक फ्रॉड की कितनी राशि ग्राहकों को वापस मिलेगी


आइये अब यह जानने का प्रयास करते हैं कि रेपो रेट में परिवर्तन करने के कारण विभिन्न प्रकार के लोन सस्ते क्यों हो जाते हैं:



नोट: यहाँ पर यह बात ध्यान दी जानी चाहिए कि यद्यपि RBI रेपो रेट में कमी कर देता है लेकिन कमर्शियल बैंक अपनी ब्याज दरों में कोई कमी नही करते हैं तो सामान्य जनता को रेपो रेट में कमी का कोई लाभ प्राप्त नही होता है. कमर्शियल बैंक अपनी ब्याज दर घटाते हैं या नही इसका फैसला सिर्फ बैंक ही करते हैं, RBI इस मामले में उन्हें मजबूर नही कर सकता है.


 


Popular posts
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
AAG विनोद शाही ने CM योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर लखनऊ और नोएडा में पुलिस कमिश्नर पद सृजन समेत तमाम मामलों पर किया विचार विमर्श...
Image
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
अरविंद केजरीवाल की ताजपोशी लगातार तीसरी बार संभाली दिल्ली की कमान
राष्ट्रपति कोविंद के बेटे और बेटी क्या करते हैं, क्या आप जानते हैं?