लेखक नादिर राणा द्वारा लिखी गई पुस्तक गाय की हिफाजत औऱ मुसलमान का हुआ विमोचन

लेखक नादिर राणा द्वारा लिखी गई पुस्तक गाय की हिफाजत औऱ मुसलमान का हुआ विमोचन
महावीर चौक स्थित बैंकट हाल मे आज लेखक नादिर राणा के द्वारा लिखी गई  गाय की हिफाजत औऱ मुसलमान नामक पुस्तिका का विमोचन किया गया।
जिसमें मुख्य अतिथि जेल अधीक्षक ए के सक्सेना, एस पी ट्रैफिक बी बी चौरसिया, सी ओ मण्डी हरीश भदौरिया उपस्थित रहे।

कार्यक्रम में बोलते हुए जेल अधीक्षक ए के सक्सेना ने कहा कि नादिर राणा ने गाय के ऊपर विषय चुनकर जी किताब लिखी है वो प्रशंसनीय है।क्योंकि गाय को मां कहा जाता है और मां की हिफाजत करना सभी का कर्तव्य है।गाय के पालने के अनेकों लाभ है।


एस पी ट्रैफिक बी बी चौरसिया ने कहा कि नादिर राणा एक सर्वगुण संपन्न व्यक्तित्व के धनी है।ये पत्रकार, लेखक होने के साथ साथ समाजसेवी भी है।ये समाज के हर क्षेत्र में अपनी अग्रणीय भूमिका निभाते है।इनकीं किताब का विषय जो चुना है गाय।वो बड़ा प्रासंगिक है।आजकल के माहौल में जो किताब इनके द्वारा लिखी गई है यह समाज मे सांप्रदायिक सौहार्द को बढ़ावा एवं मजबूती प्रदान करने में सहायक साबित होगी।


सी ओ सिटी हरीश भदौरिया ने बोलते हुए कहा कि नादिर राणा को मैं जब इंस्पेक्टर कोतवाली नगर था तभी से जानता हूँ।औऱ इसने गाय पर जो किताब लिखी है वो प्रशंसनीय है।यह किताब आगे चलकर मील का पत्थर साबित होगी।इस किताब को पढ़कर लोग गाय की हिफाजत करने में आगे बढ़ कर हिस्सा लेंगे जिससे समाज में साम्प्रदायिक सौहार्द,सद्भाव मजबूत होगा।


कार्यक्रम में उपस्थित भाजपा नेता एवं समाजसेवी अविनाश त्यागी, राधेश्याम मित्तल उर्फ भोलेनाथ, सरदार त्रिलोचन सिंह गम्भीर,रोटेरियन सुधीर गर्ग,डा० धर्मेंद्र सिंह,मौलाना शाहनवाज, भाजपा (अल्पसंख्यक मोर्चा ) नेता शादाब त्यागी, राजीव गोयल,इरफान अल्वी, आदि ने नादिर राणा को गाय के विषय पर किताब लिखने के लिए बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं दी ।


 साथ ही पुस्तिका के लेखन के लिए नादिर राणा को पगड़ी, पटका, व मोतियों की माला पहनाकर को सम्मानित किया गया।
और जीवन मे औऱ ज्यादा तरक्की के लिए आशीर्वाद दिया।
कार्यक्रम में ताहिर राणा,पिंकी भाई, हाजी शेरा, शक़ील चौधरी, डा०इंतजार त्यागी,तसलीम बेनकाब,बबलू शर्मा,शरद शर्मा, अमीर राणा,अजय बाटला, राकेश चौधरी,जाकिर अल्वी बाबर अंसारी आदि उपस्थित रहे।
*एम ए तोमर* ऑन ड्यूटी पत्रिका


Popular posts
फिर पलटेगा मौसम, बारिश , ओलावृष्टि की संभावनाएं चेतन ठठेरा
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
कोरोना संक्रमित की बढ़ती संख्या को देखते हुये निजी अस्पतालों में भी मरीजो का इलाज होगा 17 ऐसे निजी अस्पतालों के चयन कर लिया गया है
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
अरविंद केजरीवाल की ताजपोशी लगातार तीसरी बार संभाली दिल्ली की कमान