गन्ने भुगतान को लेकर भाकियू ने किया प्रदर्शन

गन्ने भुगतान को लेकर भाकियू ने किया प्रदर्शन

मुरादाबाद: चीनी मिलों का पेराई सत्र शुरू होने से पहले किसानों ने आंदोलन शुरू कर दिया है। गुरुवार को भारतीय किसान यूनियन असली के अध्यक्ष चौधरी हरपाल सिंह के नेतृत्व में किसानों ने गन्ना उपायुक्त कार्यालय का घेराव किया। किसानों ने गन्ना उपायुक्त के कार्यालय में ही लंबे समय तक धरना देने की योजना बनाकर आए। दोपहर में चाय तैयार कर पी। इसके बाद खाना बनाने की तैयारी शुरू की। हालांकि शाम को अधिकारियों से आश्वासन मिलने के बाद धरने को समाप्त कर दिया गया।


सिविल लाइंस स्थित गन्ना उपायुक्त कार्यालय में धरना प्रदर्शन के कुछ देर बाद ही कार्यालय में चूल्हा जलाकर खाना बनाना भी शुरू कर दिया। किसानों के इरादों को भांपकर स्वयं जिला गन्ना अधिकारी अजय सिंह उन्हें समझाने के लिए आए लेकिन, उनकी बात किसानों ने नहीं मानी। इसके बाद उपायुक्त अमर सिंह किसानों से बात करने के लिए धरना स्थल पर पहुंचे। करीब एक घंटे तक किसानों के साथ ही दोनों अफसर धरना स्थल पर बैठकर उन्हें समझाने का प्रयास करते रहे। किसानों ने मांग रखी कि मिल चालू होने से पहले किसानों का गन्ना भुगतान ब्याज सहित होना चाहिए। शाम को गन्ना उपायुक्त और जिला गन्ना अधिकारी से वार्ता और मजबूत आश्वासन मिलने के बाद किसानों ने धरना समाप्त करने का निर्णय लिया। गन्ना उपायुक्त ने किसानों को सीधे खरीद पर अंकुश लगाने के साथ अन्य मांगों को पूरा करने का भरोसा दिया। किसानों ने चेतावनी दी कि यदि आश्वासन को तय समय पर पूरा नहीं किया गया तो फिर से आंदोलन किया जाएगा। इस दौरान भाकियू के महासचिव चौधरी महक सिंह, उपाध्यक्ष चौधरी सुरेंद्र सिंह, जिला अध्यक्ष चौधरी समर पाल सिंह, परशुराम शर्मा, जिला अध्यक्ष अमरोहा महावीर सिंह,राजपाल सिंह यादव के साथ अन्य किसान नेता मौजूद रहे। 


Popular posts
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
फिर पलटेगा मौसम, बारिश , ओलावृष्टि की संभावनाएं चेतन ठठेरा
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
कोरोना संक्रमित की बढ़ती संख्या को देखते हुये निजी अस्पतालों में भी मरीजो का इलाज होगा 17 ऐसे निजी अस्पतालों के चयन कर लिया गया है
अरविंद केजरीवाल की ताजपोशी लगातार तीसरी बार संभाली दिल्ली की कमान