बिहार विधानसभा परिसर में जेएनयू मामले पर विपक्ष का हंगामा

बिहार विधानसभा परिसर में जेएनयू मामले पर विपक्ष का हंगामा


 


पटना, 22 नवम्बर  । बिहार विधानमंडल के  शीतकालीन सत्र के पहले दिन शुक्रवार को विपक्ष ने दिल्ली के जेएनयू के आन्दोलनकारी छात्रों के समर्थन में आवाज बुलंद की और विधानसभा परिसर में हंगामा किया। सत्र के पहले दिन विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी के प्रारंभिक संबोधन के बाद सदन में 5 दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि दी गई। विधानसभा में स्व. नैयर आजम, रघुपति गोप, जगन्नाथ मिश्र, राम जेठमलानी और तुलसीदास मेहता को श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद सदन की कार्यवाही सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई। सत्र के पहले दिन विधान सभा के बाहर विपक्षी दलों  ने दिल्ली के  जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय  के मुद्दे पर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वाम दल के साथ कांग्रेस और आरजेडी ने  जेएनयू छात्रों के   समर्थन में विधानसभा  से प्रस्ताव पास करने की मांग की। वाम दलों  के नेताओं ने कहा कि गरीबों के बच्चों को उच्च शिक्षा से वंचित करने के लिए भाजपा की सरकार ने जेएनयू में फीस बढ़ाई है। विरोधी दलों  के नेताओं ने उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी के जेएनयू संबंधी बयान की घोर निंदा की। माले विधायकों ने आरोप लगाया कि केंद्र इस विश्व विद्यालय को बंद करने की साज़िश कर रहा  है।


Popular posts
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
फिर पलटेगा मौसम, बारिश , ओलावृष्टि की संभावनाएं चेतन ठठेरा
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
कोरोना संक्रमित की बढ़ती संख्या को देखते हुये निजी अस्पतालों में भी मरीजो का इलाज होगा 17 ऐसे निजी अस्पतालों के चयन कर लिया गया है
अरविंद केजरीवाल की ताजपोशी लगातार तीसरी बार संभाली दिल्ली की कमान