दिखावटी साबित हो रही पुलिस चौकियां प्रशासन बेखबर 

दिखावटी साबित हो रही पुलिस चौकियां प्रशासन बेखबर 


प्रयागराज :- शहर में चल रही पुलिस चौकियां महज दिखावा साबित हो रही है। मुसीबत के समय आमजन सहायता के लिए पुलिस चौकियों पर पहुंच तो जाता है। लेकिन ज्यादात्तर चौकियों पर ताले लगे नजर आते है ऐसे में पीडित मदद के लिए इधर-उधर भटकने के बाद वापस लौट जाता है। हालात यह है कि चौकियों पर तैनात पुलिस अधिकारी व जवानों से थानों में काम लिया जा रहा है,जो नियम विरूद्ध है, इससे चौकियों की व्यवस्थाएं पटरी से उतर गई है। यहां पर लोगों को मिलने वाली सुविधाएं सिर्फ कागजों में ही दी जा रही है। शहर की पुलिस चौकियों में मंगलवार की सुबह हमारे संवाददाता द्वारा की गई पड़ताल में पुलिस प्रशासन की दिखावटी सुरक्षा व्यवस्था की पोल खुल गई,क्योंकि ज्यादात्तर पुलिस चोैकियों पर ताले लगे हुए मिले, आस-पास पूछने पर पता लगा कि चौकी पर अधिकतर ताला ही लगा रहता है। इनमें कीडगंज थाने की बैहराना चौकी भी शामिल है। बैहराना चैाकी का गेट तो खुला मगर चौकी में कोई पुलिसकर्मी नजर नहीं आया। पुलिस चौकी तो कुछ पुलिसवालों का रिहायशी ठिकाना बनी हुई है। जानकारी के अनुसार शहर के थानों की ज्यादात्तर पुलिस चौकियों पर लगाए गए पुलिस कर्मियों से मनमर्जी काम लिया जा रहा है। चौकियां सूनी पड़ी है और अधिकारी व जवान थानों में सेवा दे रहे हैं। जिससे चौकियों की व्यवस्थाएं बिगड़ रही है।
         आला अधिकारी तो झांककर भी नहीं देखते शहर के थानों की सूनी पड़ी पुलिस चौकिायों आज से नहीं कई सालों से दूर्दशा की शिकार है मगर पुलिस के आला अफसरों को इन चौकियों की सुध लेना तो दूर इनकी तरफ झांकने तक की फुर्सत भी नहीं है।