उत्तर प्रदेश सरकार का एक बड़ा फैसला धार्मिक स्थल रहेंगे बंद लेकिन शराब की दुकानें खुली रहेंगी आखिर ऐसा क्यों❓

उत्तर प्रदेश सरकार का एक बड़ा फैसला धार्मिक स्थल रहेंगे बंद लेकिन शराब की दुकानें खुली रहेंगी आखिर ऐसा क्यों❓
अगर यह उत्तर प्रदेश सरकार का फैसला है इस फैसले से लाखों की तादात में गरीब परिवारों के घरों में चूले बुझे हुए नजर आ रहे है वैसे ही चलते लाक डाउन में गरीब और मिडिल क्लास के परिवार के लोग ही अधिकतर तबाह हुए हैं और कुछ ऐसे परिवार भी हैं जो एक-एक दाने के लिए मोहताज भी हो चुके हैं गरीबों की पहले से ही कमर टूट चुकी है और शराबी भी अपने आप को शराब पीने के लिए कंट्रोल कर चुका है अगर सरकार ने इस तरह शराब ठेकों को चालू किया तो और भी जुल्मों सितम गरीब परिवारों के साथ बढ़ जाएगा जब शराबी को शराब पीने के लिए पैसे नहीं मिलेंगे तो वह शराबी अपने घर के सामानों को बेचना शुरु कर देगा धीरे-धीरे शराबी अपने  सामान को बेचकर शराबी शराब पी डालेगा तब शराबी अपने बीवी बच्चों और अपने परिवार वालों के साथ मारपीट भी करेगा उसके बाद कहीं कहीं ऐसा भी देखा गया है शराब और जुए के चक्कर में शराबी और जुआरी अपने अपने बच्चों और बीवियों को भी बेच देता है अगर शराब चालू होती है तो गरीब परिवारों मिडिल क्लास लोगों के परिवारों के  लिए बहुत ही परेशानियां की घड़ी है।
अगर सरकार को गरीब परिवार को स्वच्छ और स्वस्थ देखना है तो सरकार को शराब को बंद ही रखना होगा।


 


Popular posts
प्राइवेट स्कूल में कक्षा 9 की छात्रा ने मनचलों से परेशान होकर फांसी लगा ली
Image
कुसमुंडा थाना छेत्र अंतर्गत ग्राम अमगांव मे कु जया कंवर (रानू )पिता सुमरन सिंह कंवर ने  अज्ञात कारण के वजह से फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है
Image
PCS अफ़सर ऋतु सुहास की गवर्नर आनंदी बेन पटेल से मुलाक़ात. 
Image
महाराष्ट्र कोरोना संकट के कुप्रबंधन का डरावना उदाहरण है। 2334 मरीज सामने आ चुके हैं। 160 की मौत हो गई। मुंबई भारत का सबसे डरावना शहर बन गया है। सामने आए 1757 संक्रमितों में 111 जान गंवा चुके हैं।
सदर कैंट के पास ट्रेन से कटकर हुई युवक और युवती की मौत
Image