पाकिस्‍तान : कोरोना के खिलाफ जंग में 75 फीसदी हेल्‍थ वर्कर्स खुद बने शिकार

पाकिस्‍तान : कोरोना के खिलाफ जंग में 75 फीसदी हेल्‍थ वर्कर्स खुद बने शिकार


अप्रैल में जारी एक रिपोर्ट में कहा गया था कि देश में कम से कम 253 चिकित्सा कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. हालांकि नए आंकड़ों में 191 या 75 फीसदी इजाफा हुआ है और यह संख्‍या बढ़कर 444 तक पहुंच गई है.


इस्‍लामाबाद, 02 मई।  पाकिस्‍तान में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए फ्रंटलाइन पर डटे स्‍वास्थ्‍य कार्यकर्ताओं को भी प्रभावित कर रहा है. 'डॉन' की खबर के हवाले से बताया गया है कि नेशनल इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर के नए आंकड़ों के मुताबिक एक ही सप्ताह में देश भर में 191 से ज्‍यादा स्वास्थ्यकर्मी और चिकित्साकर्मी कोरोना वायरस का शिकार हुए हैं.


204 हेल्‍थ वर्कर्स आइसोलेशन में, 138 अस्पताल में भर्ती


इससे पहले 23 अप्रैल को जारी एक रिपोर्ट में कहा गया था कि देश में कम से कम 253 चिकित्सा कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. हालांकि नए आंकड़ों में 191 या 75 फीसदी इजाफा हुआ है और यह बढ़कर 444 तक पहुंच गया. 


इस संबंध में जारी हालिया रिपोर्ट में 29 अप्रैल तक के आंकड़ों से पता चला है कि 216 डॉक्टरों, 67 नर्सों और 161 स्वास्थ्य की देखभाल करने वाले स्‍टाफ के लोग अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं. इनमें से 204 अपने घरों में आइसोलेशन में हैं. इसके अलावा इनमें से 138 अस्पताल में भर्ती हैं और 94 लोग ऐसे हैं जो कोरोना वायरस को मात देकर इससे उबर चुके हैं.


Popular posts
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
प्राइवेट स्कूल में कक्षा 9 की छात्रा ने मनचलों से परेशान होकर फांसी लगा ली
Image
महाराष्ट्र कोरोना संकट के कुप्रबंधन का डरावना उदाहरण है। 2334 मरीज सामने आ चुके हैं। 160 की मौत हो गई। मुंबई भारत का सबसे डरावना शहर बन गया है। सामने आए 1757 संक्रमितों में 111 जान गंवा चुके हैं।
लखनऊ चौक इलाके में दिनदहाड़े गोली मार हत्याकर लूट की वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों का नहीं लगा कोई सुराग! 24 घंटे में खुलासा होने का दावा काबीना मंत्री बृजेश पाठक और लखनऊ पुलिस कमिश्नर ने मृतक के परिजनों और व्यापारी संगठन को दिया था आश्वासन! रुपये से भरा बैग छीनने के दौरान हत्या करने बदमाशों का नहीं लगा कोई सुराग ! 10 दिन बीत जाने के बाद भी लखनऊ पुलिस कमिश्नरी सिस्टम की हाईटेक क्राइम टीम के हाथ अब तक खाली..... 24 घंटे के अंदर बदमाशों को पकड़ने का जिम्मेवारों ने किया दावा हुआ फेल....... व्यापार संगठन एक दिन प्रदर्शन करने के बाद बैठा शांत,गुलदस्ता भेंट के बाद व्हाट्सएप ग्रुप पर अपडेट करने दौर हुआ शुरू बीते 20 फरवरी को चौक रकाबगंज इलाके में बाइक सवार चार बदमाशों ने दिया था रुपये से भरा बैग लूट के बाद हत्या को दिया था अंजाम.. जेल में बन्द बदमाशों को सीसीटीवी में दिखे बदमाशों की फ़ोटो से कराई गई पहचान, एक दर्जन से ज्यादा बदमाशों से की जा चुकी हैं पूछताछ कमला पसंद एजेंसी में दिनदहाड़े बदमाशों का हमला कर लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने सुभाष नाम के कर्मचारी को मारी थी गोली, सरकार द्वारा पूरे मामले का संज्ञान लेने के बाद भी लखनऊ पुलिस के हाथ अब तक खाली.......!
सदर कैंट के पास ट्रेन से कटकर हुई युवक और युवती की मौत
Image