लखनऊ: 15 अप्रैल को यूपी में लॉकडाउन खोलने की बनाई जा रही कार्ययोजना, जिलों में बनाई जाएगी टीम -11

लखनऊ: 15 अप्रैल को यूपी में लॉकडाउन खोलने की बनाई जा रही कार्ययोजना, जिलों में बनाई जाएगी टीम -11


लखनऊ
           प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कोरोना वायरस से निपटने की तैयारियों पर चर्चा करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलों की डीएम-एसपी संग वीडियो कान्फ्रेंसिंग की। सीएम ने कहा कि 15 अप्रैल को लॉकडाउन खोलने की कार्ययोजना बनाई जा रही है। इसे प्रभावी ढंग से लागू करने की तैयारी कर लें।


सीएम ने कहा कि राज्य की तर्ज पर जिलों में भी टीम-11 गठित करें। सरकार कोरोना केयर कोष बनाने जा रही है। इसका उपयोग इलाज से जुड़ी जरूरतों में होगा। सीएम ने प्रदेश के हर चिन्हित अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों की निगरानी और इसकी जांच की व्यवस्था को फुलप्रूफ रखने के निर्देश भी दिए हैं।
सीएम योगी ने कहा है कि अप्रैल के हफ्ते में ही सभी सरकारी, संविदा, आउटसोर्सिंग कर्मियों का वेतन भुगतान जरूर कर दिया जाए। सीएम ने जिलों में धर्मगुरुओं से संवाद कर लॉकडाउन के लिए अपील कराने के भी निर्देश दिए हैं।


सीएम ने सभी डीएम को निर्देश जारी किए है कि वे अपने जनपदों में लॉक डाउन का सख्ती से पालन करवाए। वहीं जिन जिलों में कोरोना के मरीज मिल रहे हैं वहां पर विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। खासकर पश्चिम उप्र के नोएडा और मेरठ जनपदों के डीएम को कहा गया है ​कि वे सोशल डिस्टेंस और लॉक डाउन का पालन कड़ाई से करवाएं। इतना ही नहीं अगर कहीं कोई मस्जिद के अलावा और किसी धार्मिक स्थलों पर भीड़ एकत्र करता है तो उसके खिलाफ भी सख्त से सख्त कार्यवाही की जानी चाहिए।


Popular posts
मेरठ में कोरोना पोजेटिव केसों की संख्या बढ़ कर हुई 81 लगातार बढ़ रहे केसों ने न केवल स्वास्थ विभाग में हड़कंप मचा रखा है बल्कि अब मेरठ की जनता की भी बेचैनी बढ़ा दी है ।
दिल्ली के CGO कॉम्प्लेक्स में BSF कार्यालय को बंद किया गया   BSF के एक कर्मचारी की रिपोर्ट  कल रात को कोरोना पॉजिटिव आई
क्या है रासुका (NSA)  ?
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से 5, कालीदास मार्ग आवास जाकर आज  नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने की मुलाकात...
Image
लॉकडाउन 4 -  फॉरकंटेनमेंट जोन को छोड़कर बाकी जोन में एक राज्य से दूसरे राज्यों में आपसी सहमति से बसें जा पाएंगी।  रेड और ऑरेंज जोन के अंदर कंटेनमेंट और बफर जोन बनाए जाएंगे।जिलाधिकारी तय कर सकेंगे।