भारत में 15 मई के बाद घटने लगेगी कोरोना वायरस मरीजों की संख्‍या

भारत में 15 मई के बाद घटने लगेगी कोरोना वायरस मरीजों की संख्‍या


शोधकर्ताओं का कहना है कि भारत में कोरोना वायरस आधी मई खत्‍म होते-होते अपने चरम पर पहुंच जाएगा. इसके बाद धीरे-धीरे देश में संक्रमितों की संख्‍या घट सकती है. शोधकर्ताओं ने संक्रमण से निपटने के लिए लॉकडाउन का सख्‍ती से पालन करने और 3 मई के बाद भी जारी रखने को जरूरी बताया है.


दुनियाभर में हर दिन कोरोना वायरस के पॉजिटिव केस बढ़ते जा रहे हैं. हर देश इसे रोकने की हरसंभव कोशिश कर रहा है. ज्‍यादातर देश लॉकडाउन के जरिये कोरोना वायरस के फैलने की रफ्तार पर काबू पाने में सफल हुए हैं. 


भारत में भी कोरोना का कहर जारी है. अब तक देश में संक्रमितों की संख्‍या 20 हजार के पार पहुंच गई है. इनमें 652 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि, 4,000 से ज्‍यादा लोग इलाज के बाद ठीक भी हो चुके हैं. अब एक अध्ययन में सामने आया है कि भारत में कोरोना के मामले आधी मई गुजरते-गुजरते अपने चरम पर होंगे. इसके बाद संक्रमितों की संख्या कम होने लगेगी. सबसे पहले लॉकडाउन करने वाले राज्‍यों में संक्रमितों की संख्या के साथ ही दूसरी मुश्किलें भी घटने लगेंगी.


रिपोर्ट के मुताबिक, 22 मई तक देश में होंगे 75 हजार संक्रमित


कोरोना वायरस के फैलाव पर ग्लोबल कंसल्टिंग फर्म प्रोटिविटी और टाइम्स नेटवर्क के साझा अध्ययन की टाइम्स फैक्ट इंडिया रिपोर्ट तैयार करने के लिए तीन अलग-अलग तरीकों का इस्‍तेमाल किया गया है. रिपोर्ट तैयार करने के लिए प्रतिशत आधारित (परसेंटेज मॉडल), समय आधारित ( टाइम सीरीज मॉडल) और संदिग्‍ध व ठीक होने वाले मरीजों की संख्‍या आधारित (SERI) मॉडल का इस्‍तेमाल किया गया है. एसईआईआर मॉडल से पता चलता है कि यह महामारी अगस्त़ 2020 तक देश में बनी रह सकती है. कुछ राज्य मई के अंत या जून की शुरुआत तक इस संकट से उबर सकते हैं. वहीं, संक्रमितों की ज्यादा संख्‍या वाले राज्यों को वैश्विक महामारी से उबरने में एक महीना ज्यादा समय लग सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में 22 मई तक संक्रमितों की संख्‍या 75 हजार से ज्यादा हो जाएगी.


Popular posts
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
आगरा सेंट्रल जेल के बाद अब जिला कारागार की चारदीवारी में भी पहुंचा कोरोना संक्रमण। 
ठेका लेकर पास कराते थे सीटीईटी परीक्षा,
शिया चांद कमेटी के अध्यक्ष मौलाना सैफ अब्बास का बयान हमारे पास कोई इत्तेला नही आयी और शहर में होर्डिंग्स लगाये जा रहे है