न्याय के लियें पत्रकार कर रहा इंतजार थाना हरबंस मोहाल हुआ बेकार

न्याय के लियें पत्रकार कर रहा इंतजार थाना हरबंस मोहाल हुआ बेकार

इन दिनो कानपुर का हरबंस मोहाल थाना चर्चा में है सुगबुगाहट के बीच सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार हरबंस मोहाल थाना होटल दलालों और हिस्ट्रशीटरो की मदद के लियें तत्पर है। यहां आने वाले आम फरियादी के मामले को या तो दबाया जाता है या लेनेदेनें की व्यवस्था के तहत आम इंसान को समझौते के नुस्खे बताये जाते है या समझौता ना करनें की स्थिति में आम फरियादी पर फर्जी मुक़दमा लिखकर आम फरयादी को डराया जाता है  जिससे हरबंस मोहाल क्षेत्र के हौसले बुलंद है। 


ऎसा ही एक मामला गत 3मार्च को एक छायाकार अरूण कश्यप के साथ हुआ क्षेत्रीय बदमाशों ने अरूण को खुन्नस के चलते पहले तो अगवा किया फिर बुरी तरह सरियों और डंडों से पीटा इसी दौरान उसका कैमरा 600रूपये नकद और एक 16जीबी की पेन ड्राइव गायब हों गया। छायाकार अरूण कश्यप ने किसी तरह बदमाशों के चंगुल से भाग कर जान बचाई और तत्काल हरबंस मोहाल थाने पहुंचा और अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी साथ ही तहरीर दी ताज्जुब की बात य़े है के जो तहरीर दी गई उसे बदल दिया गया और थाने ने अपने मनमुताबिक तेहरीर बनवाई और दोषियों के ऊपर हल्की धराओं में मुक़दमा पंजीकृत किया अरूण की तेहरीर के चंद घंटों बाद पुलिस ने बदमाशों के साथ षड्यंत्र के तहत अरूण पर भी बगैर जांच किये मुक़दमा कायम कर दिया अगवा करनें वाले बदमाशों में से एक लाखन ने अपनी पत्नी का सहारा लेते हुऐ अरूण पर पत्नी से छेड़खानी का झूठा आरोप लगाकर छेड़खानी की एक धारा लगवा दी । यहां सोचने वाली बात यह है के जो महिला अपने साथ छेड़खानी का आरोप लगा रही है उसका कहना है के अरूण उसे गत 4माह से छेड़ रहा था तो 4महीनों में उसने किसी भी थाने में शिकायत क्यों नही की?


 हरबंस मोहाल थाने की विवेचक आकांक्षा गुप्ता को अरूण को  अगवा करने के वीडियो फुटेज और महिला का फर्जी छेड़खानी करनें के कबूलनामे का स्टिंग सौंप दिया गया पर ना जाने क्यों आकांक्षा गुप्ता ने अभीतक बदमाशों की गिरफ्तारी नही की जब इसकी शिकायत अरूण कश्यप ने थानाध्यक्ष हरबंस मोहाल से की तो उन्होंने भी न्याय दिलाने की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लिया अब अरूण कश्यप अपनी जान बचाने के लियें कलक्टर सी.ओ.से लेकर उच्चाधिकारीयों के कार्यालयों के चक्कर काट रहा है पर इस अंधेर नगरी के हरबंस मोहाल थाने में कोई उचित कार्यवाही नही की जा रही ऎसे में एक आम इंसान अरूण हर पल अपनी जान को बदमाशों और पुलिस दोनो से बचाने की कवायत में दर दर की ठोकरें खा रहा है साथ ही यह भी कह रहा है के यदि हरबंस मोहाल थाने ने उसके साथ न्याय ना किया तो थाने के अन्दर ही आत्मदाह करूंगा।


Popular posts
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
प्राइवेट स्कूल में कक्षा 9 की छात्रा ने मनचलों से परेशान होकर फांसी लगा ली
Image
महाराष्ट्र कोरोना संकट के कुप्रबंधन का डरावना उदाहरण है। 2334 मरीज सामने आ चुके हैं। 160 की मौत हो गई। मुंबई भारत का सबसे डरावना शहर बन गया है। सामने आए 1757 संक्रमितों में 111 जान गंवा चुके हैं।
लखनऊ चौक इलाके में दिनदहाड़े गोली मार हत्याकर लूट की वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों का नहीं लगा कोई सुराग! 24 घंटे में खुलासा होने का दावा काबीना मंत्री बृजेश पाठक और लखनऊ पुलिस कमिश्नर ने मृतक के परिजनों और व्यापारी संगठन को दिया था आश्वासन! रुपये से भरा बैग छीनने के दौरान हत्या करने बदमाशों का नहीं लगा कोई सुराग ! 10 दिन बीत जाने के बाद भी लखनऊ पुलिस कमिश्नरी सिस्टम की हाईटेक क्राइम टीम के हाथ अब तक खाली..... 24 घंटे के अंदर बदमाशों को पकड़ने का जिम्मेवारों ने किया दावा हुआ फेल....... व्यापार संगठन एक दिन प्रदर्शन करने के बाद बैठा शांत,गुलदस्ता भेंट के बाद व्हाट्सएप ग्रुप पर अपडेट करने दौर हुआ शुरू बीते 20 फरवरी को चौक रकाबगंज इलाके में बाइक सवार चार बदमाशों ने दिया था रुपये से भरा बैग लूट के बाद हत्या को दिया था अंजाम.. जेल में बन्द बदमाशों को सीसीटीवी में दिखे बदमाशों की फ़ोटो से कराई गई पहचान, एक दर्जन से ज्यादा बदमाशों से की जा चुकी हैं पूछताछ कमला पसंद एजेंसी में दिनदहाड़े बदमाशों का हमला कर लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने सुभाष नाम के कर्मचारी को मारी थी गोली, सरकार द्वारा पूरे मामले का संज्ञान लेने के बाद भी लखनऊ पुलिस के हाथ अब तक खाली.......!
सदर कैंट के पास ट्रेन से कटकर हुई युवक और युवती की मौत
Image