दारुल उलूम देवबंद ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए दारुल उलूम सरकार के साथ हैं वो अगर चाहे तो मुश्किल हालात में मदरसे को अस्पताल के तौर पर इस्तेमाल कर सकते है

दारुल उलूम देवबंद ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए दारुल उलूम सरकार के साथ हैं वो अगर चाहे तो मुश्किल हालात में मदरसे को अस्पताल के तौर पर इस्तेमाल कर सकते है।मरीजों को यहां आइसोलेट कर सकते हैं।वो इस मुश्किल वक़्त में सरकार के साथ खड़े है।


Popular posts
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
आगरा सेंट्रल जेल के बाद अब जिला कारागार की चारदीवारी में भी पहुंचा कोरोना संक्रमण। 
ठेका लेकर पास कराते थे सीटीईटी परीक्षा,
शिया चांद कमेटी के अध्यक्ष मौलाना सैफ अब्बास का बयान हमारे पास कोई इत्तेला नही आयी और शहर में होर्डिंग्स लगाये जा रहे है