5 साल से ज्यादा की सजा पाए कैदियों को राहत नहीं संक्रमण रोकने को अस्थायी तौर पर कदम उठाया

5 साल से ज्यादा की सजा पाए कैदियों को राहत नहीं
संक्रमण रोकने को अस्थायी तौर पर कदम उठाया
कोरोना वायरस के बढ़ते कहर और उसके प्रसार को रोकने की कवायद दुनिया के कई देशों में भी जारी है. चीन के बाद कोरोना का सबसे ज्यादा असर ईरान पर पड़ा है और उसने अपने यहां की जेलों में इस वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 54 हजार से ज्यादा कैदियों को अस्थायी तौर पर रिहा कर दिया है. इस बीच ईरान के 23 सांसद कोरोना वायरस से संक्रमित हैं.


Popular posts
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
AAG विनोद शाही ने CM योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर लखनऊ और नोएडा में पुलिस कमिश्नर पद सृजन समेत तमाम मामलों पर किया विचार विमर्श...
Image
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
<no title>
Image
<no title>
Image