SP साहेब की सुरक्षा अब AK-47 से नहीं होगी, कई विधायकों के गार्ड से भी वापस मांगे गए हथियार

SP साहेब की सुरक्षा अब AK-47 से नहीं होगी, कई विधायकों के गार्ड से भी वापस मांगे गए हथियार
  
PATNA : इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है पटना से जहां राज्य सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक को निर्देश जारी किया है कि आधुनिक हथियार AK-47 अब वापस करने हैं. सरकार की ओर से जारी ताजा निर्देश के मुताबिक बिहार में अब सिर्फ दो ही VIP पर्सन के सुरक्षाकर्मियों को AK-47 दिया जायेगा. 


 


*सिर्फ CM और राज्यपाल के गार्ड को मिलेगा AK-47*


बिहार पुलिस मुख्यालय की ओर से जारी निर्देश के मुताबिक सिर्फ महामहिम राज्यपाल और मुख्यमंत्री की सुरक्षा में लगे गार्डों को ही आधुनिक हथियार AK-47 दिया जाएगा. सरकार ने यह कहा है कि सीएम और राज्यपाल के आलावा अब किसी भी व्यक्ति की सुरक्षा में लगे गार्ड को यह हथियार मुहैया नहीं कराई जाएगी. बता दें कि बिहार के नक्सल प्रभावित इलाकों में भी विधायकों की सुरक्षा के लिए AK-47 दिए गए हैं. अब वे भी हथियार वापस लिए जायेंगे. 
आलाधिकारियों के गार्ड के पास भी AK-47
बिहार के आलाधिकारियों के सुरक्षा में लगे गार्डों को भी AK-47 दी गई है. जिसे अब सरकार ने वापस लेने का फैसला किया है. मुख्यालय की ओर से जारी निर्देश के मुताबिक इससे पहले भी पुलिस अधीक्षकों से इसके बारे में निर्देश दिए गए थे. सरकार ने साफ़ तौर पर ये स्पष्ट किया है कि सीएम और गवर्नर के आलावा अन्य किसी भी व्यक्ति की सुरक्षा में लगे जवानों को AK 47 नहीं दिया जायेगा


Popular posts
फिर पलटेगा मौसम, बारिश , ओलावृष्टि की संभावनाएं चेतन ठठेरा
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
कोरोना संक्रमित की बढ़ती संख्या को देखते हुये निजी अस्पतालों में भी मरीजो का इलाज होगा 17 ऐसे निजी अस्पतालों के चयन कर लिया गया है
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
अरविंद केजरीवाल की ताजपोशी लगातार तीसरी बार संभाली दिल्ली की कमान