शिवसेना ने 2014 में भी कांग्रेस-राकांपा व कांग्रेस को गठबंधन का दिया था प्रस्ताव, महाराष्ट्र में भाजपा की सत्ता नहीं चाहती थी शिवसेना: पृथ्वीराज चह्वाण

शिवसेना ने 2014 में भी कांग्रेस-राकांपा व कांग्रेस को गठबंधन का दिया था प्रस्ताव,
महाराष्ट्र में भाजपा की सत्ता नहीं चाहती थी शिवसेना: पृथ्वीराज चह्वाण


महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चह्वाण ने रविवार को राज्य की राजनीति पर बड़ा खुलासा किया। 
      चह्वाण ने कहा कि 2014 विधानसभा चुनाव के बाद भी शिवसेना ने कांग्रेस और राकांपा को गठबंधन का प्रस्ताव दिया था, शिवसेना राज्य में भाजपा को सरकार बनाने से रोकना चाहती थी।
      न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में चह्वाण ने कहा- 2014 में हमने शिवसेना का प्रस्ताव तुरंत खारिज कर दिया था।
      हमने कहा था कि जीत और हार राजनीति का पहलू हैं, तब हमने कहा था कि हार के बाद हम विपक्ष में बैठेंगे।
       पिछले साल नवंबर में कांग्रेस ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में राकांपा के साथ मिलकर सरकार बनाई थी, जबकि शिवसेना और भाजपा यह विधानसभा चुनाव मिलकर लड़े थे, नतीजे आने के बाद सत्ता में भागीदारी के 50-50 फॉर्मूला को लेकर दोनों में सहमति नहीं बन पाई थी। 
      2014 में भाजपा, शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा अलग-अलग चुनाव लड़े थे, भाजपा की सरकार बनने के बाद शिवसेना ने उसे बाद में समर्थन दिया था।


*2019 में भी सोनिया गठबंधन के पक्ष में नहीं थीं: चह्वाण*
चह्वाण ने कहा- 2019 विधानसभा चुनाव के बाद भी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में सरकार बनाने के पक्ष में नहीं थी, लेकिन गहन विचार-विमर्श के बाद उन्होंने गठबंधन का फैसला लिया।


 


Popular posts
सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड ने बनाया ट्रस्ट ज़ुफर फारूकी होंगे ट्रस्ट के अध्यक्ष
नोएडा के SSP वैभव कृष्ण सस्पेंड किए गए
CBSE और ICSE पैटर्न पर होगी मदरसों की शिक्षा व्यवस्था -
मंगलवार को जिला अस्पताल के सफाई सुपरवाइजर में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है वहीं कोरोना संक्रमित का इलाज करने वाले न्यूट्रिमा हाॅस्पिटल के सीनियर डाॅक्टर विश्वजीत बेंबी को क्वारंटीन कर दिया गया है
आगरा प्रशासन की लापरवाही एक बार फिर आयी सामने डी एम आगरा द्वारा किये गए सभी वादे झूठे हो रहे साबित अग्रवन में क़वारन्टीन किये गए 41 लोग बैठे धरने पर खाना पानी लेने से भी किया इनकार