शहर में 2 दिन में हुयीं 4 हत्यायें,  पुलिस के हाथ अभी भी खाली

शहर में 2 दिन में हुयीं 4 हत्यायें,  पुलिस के हाथ अभी भी खाली


 


 कानपुर* . जिले में हाल के दिनों में अपराध का ग्राफ बढ़ा है, शहर में पिछले 2 दिनों में तीन वयस्‍कों समेत एक कोचिंग में पढने वाले छात्र की हत्या हो चुकी है। परन्‍तु पुलिस अभी तक एक भी वारदात का खुलासा करने में नाकाम रही है।  



बताते चलें कि तीन बड़े हत्याकांड होने के बाद शहर के लोगों में आक्रोश है कि अभी तक हत्यारे क्यों नहीं पकड़े गए। हत्यारे कौन हैं, कब पकड़े जाएंगे ये पूछने पर पुलिस अधिकारियों का रटा रटाया जबाव रहता है कि विवेचना जारी है, शीघ्र ही अपराधियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी। तीनों हत्याकांड में पुलिस अभी इस नतीजे पर भी नहीं पहुंच सकी है कि हत्या किस मकसद से की गई थी। अपराधियों के बढ़े मनोबल से जनता में रोष बढ़ रहा है।



भाजपा सरकार में महिलाओं की सुरक्षा के लिये कितने भी बड़े बड़े वादे क्यों न किये गये हो मगर कानपुर में ये सारे दावे फेल होते नजर आ रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की हाईटेक पुलिस कानपुर में तकरीबन फेल होती नज़र आ रही है। नौबस्ता में युवक की हत्या हुई, नजीरबाद में रहने वाली लड़की की हत्या हुई, कोचिंग में पढ़ने वाले एक बच्चे की फांसी लगाकर हत्या कर दी गई वहीं आज कल्याणपुर में एक युवक की हत्या कर दी गयी। ताबड़तोड़ हत्‍याओं से जिले में दहशत का माहौल है और कानपुर पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं। जिले के कप्‍तान अपनी न्‍यायप्रीयता और कार्यकुशलता के लिये विख्‍यात हैं पर उनके मातहत उनकी साख पर बट्टा लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।


Popular posts
ज़िला बिजनौर के नूरपुर मे मोहल्ला बंज़ारन मे कल रात दो बहन भाई को corona positive निकला जिसमें लड़के की उम्र 10 साल और लड़की की उम्र 13 साल बतायी जा
दिहाड़ी मजदूरों के भुगतान के लिए शासनादेश जारी,
महाराष्ट्र कोरोना संकट के कुप्रबंधन का डरावना उदाहरण है। 2334 मरीज सामने आ चुके हैं। 160 की मौत हो गई। मुंबई भारत का सबसे डरावना शहर बन गया है। सामने आए 1757 संक्रमितों में 111 जान गंवा चुके हैं।
भारत में अपराध के बढ़ते ग्राफ पर अमेरिका-इंग्लैंड ने नागरिकों के लिए जारी की सुरक्षा एडवायजरी।
वाहन चेकिंग को लेकर बड़ा कदम, यूपी पुलिस नहीं करेगी पेपर चेक: डीजीपी