_सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने के जुर्म में अभी तक उत्तरप्रदेश में 71 लोगो को गिरफ्तार किया गया

>लखनऊ/वाराणसी 


सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने के जुर्म में अभी तक उत्तरप्रदेश में 71 लोगो को गिरफ्तार किया गया ।



उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मीडिया से कहा कि 'प्रदेश के किसी भी हिस्से से किसी तरह की अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है. हम समूचे प्रदेश पर कड़ी निगरानी रख रहे हैं और हमारी टीमें अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रही हैं.'


उन्होंने बताया कि अयोध्या फैसले से पहले और बाद में सोशल मीडिया, इमरजेंसी 112 नंबर पर आने वाली फोन कॉल और मीडिया से प्राप्त सूचनाओं पर नजर रखने के लिए पहली बार उत्तर प्रदेश पुलिस के 112 मुख्यालय पर 'इमरजेंसी आपरेशन सेंटर' बनाया गया है.


अपर पुलिस महानिदेशक असीम अरूण ने पत्रकारों को बताया, 'इमरजेंसी आपरेशन सेंटर पुलिस के 112 मुख्यालय में बनाया गया है. यहां जोन वार डेस्क बनाये गए हैं जो 112 की कॉल, सोशल मीडिया, मीडिया से प्राप्त सूचनाओं के आधार पर नजर रख रहे हैं. अगर कहीं जरूरत पड़ी तो पीआरवी, क्यूआरटी, पीएएसी आदि बल भेजे जाने के निर्देश दिए जाएंगे'.


उन्होंने बताया कि इस सेंटर पर दमकल, अभिसूचना, सीआरपीएफ, जीआरपी, आरपीएफ, बीएसएफ, एसएसबी, आईटीबीपी तथा सीआईएसएफ के प्रतिनिधि भी मौजूद हैं. यहां पर मोबाइल डेटा टर्मिनल, रेडियो, इन्टरनेट, सैटेलाइट फोन, हाई फ्रीकेंवसी रेडियो जैसी संचार सुविधायें मौजूद हैं. यह इमरजेंसी सेंटर 24 घंटे चलेगा.