आईसीसी रैंकिंग में मयंक और शमी ने लगाई  लंबी छलांग

आईसीसी रैंकिंग में मयंक और शमी ने लगाई  लंबी छलांग


बांग्लादेश के खिलाफ इंदौर में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत की पारी और 130 रन की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने आईसीसी की ताजा रैंकिंग में रविवार को अपना सर्वश्रेष्ठ स्थान हासिल किया।


पहली पारी में 27 रन देकर तीन और दूसरी पारी में 31 रन देकर चार विकेट लेने वाले शमी आठ स्थान की सुधार करते हुए सातवें पयदान पर पहुंच गए। उनके नाम 790 रेटिंग अंक है, जो किसी भारतीय तेज गेंदबाज के लिए टेस्ट में तीसरा सर्वश्रेष्ठ है। इस मामले में कपिल देव (877 अंक) और जसप्रीत बुमराह (832 अंक) क्रमश: पहले और दूसरे स्थान पर हैं।


बांग्लादेश के खिलाफ करियर की सर्वश्रेष्ठ 243 रन की पारी खेल 'मैन ऑफ द मैच' रहे 28 साल के मयंक बल्लेबाजों की रैंकिंग में 11वें स्थान पर हैं। करियर के शुरुआती आठ टेस्ट में 858 रन बनाने वाले इस बल्लेबाज के नाम 691 रेटिंग अंक है। शुरुआती आठ टेस्ट में सिर्फ सात बल्लेबाजों ने मयंक से ज्यादा रन बनाए हैं, जिसमें डॉन ब्रैडमैन (1210), एवर्टन वीक्स (968), सुनील गावस्कर (938), मार्क टेलर (906), जॉर्ज हेडली (904), फ्रैंक वारेल (890) और हर्बर्ट सटक्लिफ (872) शामिल हैं।


भारत के चार बल्लेबाज शीर्ष 10 में शामिल है, जिनमें कप्तान विराट कोहली दूसरे, चेतेश्वर पुजारा चौथे, अजिक्य रहाणे पांचवें और रोहित शर्मा 10वें नंबर पर शामिल हैं। हरफनमौला रवींद्र जडेजा बल्लेबाजों की रैंकिंग में चार स्थान की सुधार के साथ संयुक्त रूप से 35वें स्थान पर पहुंच गए।


 


Popular posts
लोहिया नगर मेरठ स्थित सत्य साईं कुष्ठ आश्रम पर श्री महेन्द्र भुरंडा जी एवं उनके पुत्र श्री देवेन्द्र भुरंडा जी ने बेसहारा और बीमार कुष्ठ रोगियों के लिए राशन वितरित किया।  
Image
फिर पलटेगा मौसम, बारिश , ओलावृष्टि की संभावनाएं चेतन ठठेरा
राजस्थान के जयपुर में 28 फरवरी, सन् 1928 को दीनाभाना जी का जन्म हुआ था। बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वाल्मीकि जाति (अनुसूचित) से संबंधित इसी व्यक्ति की वजह से बामसेफ और बाद में बहुजन समाज पार्टी का निर्माण हुआ था।
कोरोना संक्रमित की बढ़ती संख्या को देखते हुये निजी अस्पतालों में भी मरीजो का इलाज होगा 17 ऐसे निजी अस्पतालों के चयन कर लिया गया है
अरविंद केजरीवाल की ताजपोशी लगातार तीसरी बार संभाली दिल्ली की कमान